Header Ads Widget

Ticker

50/recent/ticker-posts

सगाई सफल कैसे करे?-Engagement Successful kaise kare?

शादी विवाह से पहले सगाई का विषय बहुत ही नाज़ुक होता है। लड़का या लड़की ढूंढ लेने के बाद परिवार वालों के मन में एक ही प्रश्न आता है कि,अब सगाई सफल कैसे करे?-Engagement Successful kaise kare? सबके मन मे खुशी और उत्साह होता है, लेकिन समाज मे बहुत सी एैसी घटनायें घटीत होती है, जिसमे सगाईयाँ टुट जाती है। या कैंसिल होती है। बस इसी का डर दूर कर करने के लिए यह पोस्ट लिखने की कोशिश कि है। 


Engagement-Successful-kaise-kare?


Engagement और Marriagre के लिए रिश्ता कैसे ढूंढे?

 नये रिश्तों मे नयापन होता है लेकिन इसमे रिक्स बहुत होती है। क्यों की हम उनसे ज्यादा परिचित नही होते। इसलिए उनके व्यवहार, उनके संस्कार, उनका रहन-सहन ,उनका रित रिवाज हमसे मैच होता है या नही इस बात की कोई गारंटी नही होती। इसलिए नाज़ुक रिश्तों मे सहज बातों से भी खटास आने की संभावना होती है। इसलिए जितना हो सके रिश्ता पुराने रिश्तों मे ही ढुंडे। जिससे कुछ Relationship problem भी आयें तो अन्य रिश्तों द्वारा जल्दी से निपटारा हो सके। 

रिश्तेदारों को महत्व दें

Engagement Successful करने के लिए रिश्तेदारों का बड़ा महत्व होता है।  रिश्ता ढुूडने और सगाई कराने मे अपने और पत्नी के रिश्तेदारों की भूमिका बहुत जरूरी होती है। इसलिए जीवन भर रिश्तेदारों को महत्व देने मे ग़लती ना करें। कुछ लोग यहीं फेल हो जाते है। फिर जब अपने लड़का-लड़की की शादी की उम्र हो जाती है तब बहुत पछताते हैं। 

जीवन में व्यस्त तो हर कोई रहता है। किंतु जब रिश्तेदारों के परिवार मे कोई भी प्रोग्राम हो, नहीं टालना चाहिए। चाहे किसी की शादी हो या किसी की मौत। सबके खुशी और ग़म मे समय निकाल कर शामिल होना जरूरी है। और हो सके तो ना शरमाते हुए आगे बढ़कर उनके कार्यक्रम मे मदद भी करनी चाहिए। जो ऐसे समय मे Man power बहुत लगता है। और ज्यादा आवश्यकता होती है। इससे रिश्तों मे अपनापन भी बढ़ता है, वाहवाही भी होती है। और आप के किसी भी प्रसंग मे दौड़कर आते है सब लोग। 

रिश्तों को संभालने के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण  टिप्स देनेवाला ये विडिओ देखिए और फिर आर्टीकल पर वापस लौट आये... 




 Social media या Brokers का सहार लेना टाले

नोट: इस बारे मे मैने अपनी निजी राय रख रहा हुँ इसलिए बाकी अपनी मर्ज़ी

बहुत से लोग रिश्ते जोड़ने मे Social media या दलालों का सहारा लेते है। मेरी मानो तो इसमे धोखा होने के बहुत संभावनाएँ होती है। मेरे एक रिश्तेदार के साथ ऐसा हादसा हो चुका है। जो सोशल मीडिया पर से रिश्ता जोड़कर बाद मे पछताना पडा। तो मित्रों आम तौर पर कुछ अपवाद छोड़कर ज्यादातर लोग रिश्ते ना जुड़ने के कारण या कुछ ख़ामियाँ, कमजोरीयाँ होने के कारण इन बातों का सहार लेते है। जब सबकुछ अच्छा और सही हो तो हमको रिश्ते के लिए किसी Media या Broker की आवश्यकता नही पड़ती।  (कुछ अपवाद हो सकते है) रिश्ता अपने-आप ढूंढ़ते हुए आता है। 

दलालों मे भी सभी बेईमान या लालची नही होते। कोई पुण्य कार्य या समाज सेवा समझ करने वाले भी है। और कुछ मुफ्त मे करने वाले लोग भी होते है। उन्हे दलाल नही कह सकते। लेकिन Engagement Successful करने के लिए सबसे अच्छा है अपने दम पर रिश्ता तय करना। 

रिश्तेदारों से दुश्मनी ना हो

किसी भी कारण वश रिश्तेदारों मे दुश्मनी ना हो। कुछ अपने-आप जलने वालों का कोई इलाज नहीं होता। इन से दूर ही रहना अच्छा है। 

बाकी रिश्तेदारों को हमेशा सम्मान देते रहे। कोई मन मुटाव हो तो भी समय पर दूर कर लें, वरना ऐसे ही लोग अच्छे रिश्तों को भी कानफुसी करके बिगाड़ देते है। जिससे Engagement Problem मे आ जाती है। ये लोग सगाई के बाद भी ख़ुशियों मे आग लगा देते है। और सगाई कैंसील करने की नौबत लाकर छोड़ते है। और एकबार सगाई कैंसील हो जाए तो फिर दूसरा रिश्ता आने से भी हिचकिचाता है। खास कर लड़कियों के लिए। 

ये भी पढ़िए :





Engagement के लिए सावधानियां 

 Successfull Engagement हो इसलिए आपको भी कहीं सारी सावधानियां  बरतनी पड़ती है। खास कर लड़की वालों को। 

जब नये या पुराने रिश्तेदार अपने आप रिश्ता लेकर आते है तो उनका उचित आदर सत्कार करना ना भूलें। कुछ लोग पुराने रिश्तों को हल्के मे लेते है। और सम्मान नही करते। लेकिन सगाई के समय हर व्यक्ति या परिवार का मुड़ कुछ अलग होता है। और उनका सम्मान ना करने से मन मे कहीं नाराज़गी छिपी रहती है। जो आगे चलकर बड़ा रूप धारण कर सकती है। रिश्तों मे मान सम्मान और रीति रिवाज़ों का बड महत्व होता है। ये पक्की गांठ बांध लो। 

सगाई से पहले दोनो परिवारों को एक दूसरे को समझने का अवसर भी देना चाहिए और इस बीच एक दूसरे के रीति रिवाज़ों के बारीकी से समझ ले। इस पर चर्चा करें। हो सकता है कुछ रिवाज़ आगे वालों को पसंद ना हो। उसपर कुछ उपाय भी निकाल लें। ये काम दोनो बच्चों के मां-बाप को बैठकर करना चाहिए। आपने बच्चों की अच्छी-बुरी आदतें भी एक दूसरे से साझा कर लेना चाहिए। इससे आने वाले समय मे मुश्किल ना हो। तथा एक दूसरे के उस रिश्तेदारों से भी अवगत कराना चाहिए। जिनसे हमारी नही बनती। ताकी वो बनते रिश्ते मे दरार डालने मे कामयाब ना हो। एक दूसरे को जितना हो सके विश्वास मे लेने की कोशिश करें। शादी. के बाद एक दूजे से क्या अपेक्षायें है? इसपर भी खुलासा हो जाये तो बहुत बढीया होगा। 

रिश्ता अपने से बड़े घर मे हो तो ध्यान रहे, आगे वाला हमारा भी सम्मान करने वाला हो। घमंडी लोगों से पहले परिचय मे ही बचकर रहे। अगर अपने से कम हैसियत वाले हो तो उनपर रौब ना जमायें,  बल्कि उनका सम्मान करे। इससे उनके मन मे आपका आदर दो गुना बढ़ जाएगा। 

सगाई की तैयारी कैसे करे ?

सगाई के एक दिन पहले बहुत चिंता होती है की कहीं कही ग़लती ना हो जाये और मेहमान नाराज़ न हो जाये। लेकिन ज्यादा चिंता करने की कोई जरुरत नहीं क्यों की सबकुछ अच्छा करते-करते कुछ छूट भी जाये तो अच्छे मेहमान कभी नाराज़ नहीं होंगे क्यों की उन्हें पता होता है किसी की खास मेहमान नवाजी में कितनी तकलीफ़ उठानी पढ़ती है। उनके अपने घर में भी होता तो ऐसे ही होता। और बहुत कुछ करने के बाद भी मेहमानों को इतनी सी बात का भी ज्ञान ना हो तो उन से रिश्ता जोड़ना ही बेकार है। क्यों की वो लोग आप को भविष्य में बहुत तकलीफ़ देने वाले है। 

इसके अतिरिक्त आप उन पड़ोसी ,दोस्त ,मित्र से भी इस बारे में जानकारी इक्कठा कर सकते है जिनके घर में पहले एक दो बार सगाई की रस्म संपन्न हो चुकी है। 

Arrange Marriage की सगाई हो तो बच्चों की पसंद का खयाल रखें

अगर पहले से एक दूसरे को पसंद किया हुआ Love marriage है तो ठीक है, लेकिन शादी के पहले ही Arrange अर्थात व्यवस्थात्मक है तो व्यवस्था मे सभी मुद्दों के साथ मुख्य बाज़ू लड़का-लड़की के पसंदी पर भी ध्यान देना जरूरी है। क्योंकि हम तो बस व्यवस्थापक होते है, असल मे जीवन भर उन्हे एक दूसरे के साथ निभाना होता है। इसलिए कुछ ऐसा रिश्ता तय करो, जिसमे वो एक दूसरे को लंबे समय से जानते हो। जाहिर है ऐसा रिश्ता केवल नज़दीकी रिश्तेदारों मे ही मिलना संभव है। इन सभी बातों का अगर खयाल रखा जाए और सावधानी बरती जाए तो Engagement Successful होना कोई बड़ी बात नहीं। 

आशा करता हुँ मित्रों Hindi Hints की यह सगाई सफल कैसे करे?-Engagement Successful kaise kare? पोस्ट आप को ज़रूर पसंद आयी होगी। इससे जुड़ा कोई सवाल मन मे हो तो आप बेशक नीचे कमेंट बॉक्स में लिखें। अगर ना हो तो अपनी राय तो ज़रूर लिखें। यही मेरे लिए खुशी होगी। आप को दिल से धन्यवाद! 

ये भी पढ़िए :

आधार कार्ड अपडेट (2021) घर बैठे कैसे करें? 

आधार PVC कार्ड  सस्ते मे  घर पर कैसे मंगाये?

भगवान कौन सी मांग 100% पूर्ण करता है?

नींद की खर्राटों को कैसे रोकें?

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ