Header Ads Widget

Ticker

50/recent/ticker-posts

आयरन डोम सिस्टम क्या है? - Iron Dome System Kya hai? in Hindi

दोस्तों आप ने इजराइल के रक्षा कवच आयरन डोम के बारे मे ज़रूर सुना होगा। और मन मे यह सवाल अवश्य आया होगा की इतनी चर्चित यह Iron Dome System Kya hai? तो चलिए विस्तार से इसके बारे मे जानते है। 

Iron Dome System के बारे मे

लगभग 90 लाख जनसंख्या वाले देश दुनिया की बुरी नज़रों से बचाने वाली यह Self defence वाली तकनीक है। यह दुश्मनों के घातक  हमले से बचाने वाली सक्षम रक्षा प्रणाली है। यह प्रणाली रॉकेट लॉन्चर, क्रूज मिसाइल, मोर्टार शेल के साथ-साथ विमान, हेलीकॉप्टर और मानव रहित हवाई वाहनों (UAV) आदि से सुरक्षा करती है। यह दुनिया के सबसे अच्छे मिसाइल सिस्टम में से एक माना जाता है। यह दिन-रात सहित किसी भी मौसमों में कार्य करने के लिए सक्षम है।

 इजराइल 2006 से इस तकनीक पर काम करना शुरू किया था। जब पड़ोसियों से इज़राइल का युद्ध छिड़ गया और उनके मिसाइल से बहुत नुकसान उठाना पडा, तबसे उसने इस संशोधन पर ध्यान आकर्षित किया। 

Iron-Dome-System-Kya-hai


Iron Dome System कैसे काम करता है? 

इस तकनीक मे 3-4 चीजें एक साथ काम करती है। प्रथम है शक्तिशाली राडार यंत्र जो आकाश मे निगरानी रखते हुए छोटी से छोटी वस्तु के के प्रति एलर्ट जारी कर देता है। इसकी चेतावनी युद्ध प्रबंधन कक्ष मिलती है जहां पर देश की रक्षा के लिए नियुक्त सर्वोच्च अधिकारी बैठे होते है। 

इस Iron Dome System को एकबार चालू करने के बाद इसको फिर से फ़ायरिंग के आदेश देने की जरूरत इसे स्वयंचलीत रक्षा प्रणाली भी कह सकते है। इस सिस्टम मे तामिर (Tamir) इंटरसेप्टर मिसाइल बैटरी से जुड़ा है जो हमला होते ही दुश्मनों की मिसाइल को ट्रॅक करके हवा में ही समाप्त कर देता है। अगर 1000 मिसाइल एक साथ डाल दिये जाए तो मुश्किल से 10-12 मिसाइल हि इस यंत्रणा को धोखा दे सके है। इससे Automatic छोड़ी गयी मिसाइल दुश्मनों के मिसाइल के साथ करीब 10 मीटर की दूरी पर टकराती है और उसे नष्ट कर देती है।  

लेकिन यह तकनीक बहुत ही महंगी है। इसकी एक बैटरी मे 4 मिसाइल बै़ठती है और प्रत्येक मिसाइल की कीमत 59 लाख रूपये है। दुश्मन द्वारा हमले के वक्त इस्तेमाल किये जाने वाले सबसे सस्ते मिसाइल कीमत केवल 1 लाख रूपये है। अचुक सर्विस के लिए यह तकनीक आगे की एक मिसाइल को नष्ट करने के लिए अपनी एक साथ दो मिसाइल छोड़ते है। इसलिए यह तकनीक बहुत ही ज्यादा महंगी साबित होती है। 


भारत की आत्मरक्षा प्रणाली

वर्तमान समय मे भारत आत्मरक्षा के लिए पिछौरा और आकाश नामक प्रणाली का उपयोग कर रहा है। लेकिन इसकी मार्क क्षमता कम है।  जानकारों का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल मे इन सभी सुरक्षा व्यवस्थाओं को आधुनिक बनाने का प्रयास कर रहे है। जिसके लिए रूस से आयरन डोम जैसा एक सिस्टम खरीदा गया  है जिसकी मार्क क्षमता ज्यादा यानी की 400 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र की है। भारत जल्द ही इस तकनीक को अपने देश मे लगाएगा। जिससे देश की सुरक्षा व्यवस्था और भी मजबूत होगी। 

आशा करता हूँ की Hindi Hints की इस पोस्ट द्वारा आप संक्षिप्त मे जान गये होंगे की Iron Dome System Kya hai? अगर आप को यह लेख पसंद आयें तो कमेंट बॉक्स में ज़रूर अपनी राय लिखे। ध्यान से पढने के लिए दिल से धन्यवाद!

ये भी पढ़िए :

ब्लू प्रिंट किसे कहते है?

टेस्ट ट्यूब बेबी क्या है?

UPI Payment क्या है? 

पत्नी कैसे संभाले?

लव मैरेज  सफल कैसे करे?

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ