Header Ads Widget

Ticker

50/recent/ticker-posts

IFSC Code और CIF Number क्या है?

दोस्तों बैकिंग मे स्पष्टता लाने के लिए अलग-अलग व्यवस्थात्मक कोड बनाये गये है। जिसमे आप ने IFSC CODE और CIF CODE  इन दोनो के बारे मे ज़रूर सुना होगा, दोनों के नाम मे लगभग एक समान अक्षर होने कारण मनुष्य को कन्फ्युजन पैदा होने की संभावना होती है। ऐसे मे अगर हम दोनों मे का अंतर जान जाये तो शायद समझने मे आसानी होगी। तो चलिए उसके लिए आज जानते है कि आखिर IFSC code और CIF Number क्या है?


Ifsc code aur Cif Number kya hai?

Ifsc code क्या है? - What is IFSC Code? in Hindi

IFSC Code Fullform है Indian Financial System Code 

जब एक बैंक ब्रँच से दूसरे बैंक ब्रँच मे पैसे ट्रांस्फर करने होते है तो वहाँ पर lFSC CODE मांगा जाता है। इसका कारण यह है कि देश मे कितनी सारी बैंक है,  बैंक ऑफ बड़ोदा, HDFC बैंक, बैंक ऑफ इंडिया,ICICI बैंक, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) बहुतों का को हमे नाम भी पता नहीं होता। और फिर उनकी शाखायें गांव, शहर, जिला आदी मे कितनी सारी होती है। कभी-कभी बड़े शहर मे एक हि बैंक की 2-4 ब्रँच होती है तो फिर हम पैसे भेजते समय इनकी पहचान कैसे करें? उस गांव के किस ब्रँच मे भेजना है? इसीलिए Ifsc code बनाये गये है। ये कोड उस ब्रँच की Unique पहचान होती है। System पहले Bank Branch ढुँडता है, फिर खाता धारक का Acount Number को, इस कोड से भारत के किसी भी बैंक या शाखा का पता लगाया जा सकता है। 


ये भी पढ़िए :

आधार कार्ड अपडेट (2021) घर बैठे कैसे करें? 

आधार PVC कार्ड  सस्ते मे  घर पर कैसे मंगाये?

2021 में राशन कार्ड की जानकारी कैसे चेक  करें?  


यह 11 अक्षरों वाला Alphanumeric कोड होता है। इसके शुरू के 4 आंग्रेजी अल्फाबेट अक्षर बैंक के नाम की पहचान कराते है। जैसे स्टेट बैंक ऑफ इंडिया का SBIN इसमे पांचवे नंबर का अक्षर हमेशा 0 हि होता है। उसके बाद बाकी बचे 5-6 अक्षर ब्रँच की पहचान कराते है। जो आंग्रेजी या गणितीय अंक होते है। जैसे:

सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया: CBIN0283054,

बैंक ऑफ बड़ौदा : BARB0MUKHED

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया: SBIN0020058

जैसे मैने उपर कहा है की पहले 4 अक्षर बैंक की पहचान है पांचवा "0" सबके लिए कॉमन होता है। और अंतिम 6 अक्षर बैंक की पहचान कराते है, जिसमे अंक और अंग्रेजी अक्षर होते है। उपर SBIN0 और CBIN0 के बाद अंक है। किंतु बैंक ऑफ बड़ौदा के कोड मे BARB0 के बाद अंग्रेजी अक्षर MUKHED है, तो इस तरह के होते है ये कोड अब आप पुरी तरह जान चुके होंगे की आय. एफ. एस. सी. कोड क्या है। 

CIF Number क्या है? - What is CIF Number? in Hindi

CIF number full form होता है  Customer Information File

हर Bank Acount number के साथ कस्टमर इन्फॉरमेशन फाइल जुडी होती है। जिसमे उस व्यक्ति कि सारी जानकारी होती है। जैसे उसमे उसकी जन्म तारीख, व्यक्ति का पूरा नाम उसके पिताजी का नाम तथा उसकी माता जी का नाम और उसका खाता खुलवाने की तारीख होती हैं। 

Cif Number को अलग-अलग बैंकों में विभिन्न नाम से जानते है। जैसे कि सीआईएफ, सीआरएम, कस्टमर आईडी, यूज़र आई डी इत्यादि। 

SBI में इसको cif नंबर कहा जाता है। 

लेकिन HDFC बैंक, ICIC बैंक, BOB बैंक और अन्य बैंकों में कस्टमर आई डी का जाता है।

तथा सभी बैंकों के नंबर संख्या में भी फर्क होता है। जैसे कि सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया का 10 अंकों का होता है, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया का 11 अंकों का होता है, उसी तरह HDFC बैंक 8 अंक, Axis Bank 4 अंक होते है। 

CIF नंबर क्यों जरूरी है और कहाँ मिलेगा? 

 Internet Banking या फिर Mobile Banking के रजिस्ट्रेशन के लिए आप को इसकी जरूरत पड़ती है। 

ये नंबर आप के पास-बुक पर प्रिंट किया हुआ देखने को मिलेगा। तथा आप के चेक बुक के पहले पन्ने पर भी देखने को मिलेगा। और कहीं ना मिले तो आप अपनी बैंक के ब्रँच में जाकर इस नंबर के बारे मे पता कर सकते हो। 

आशा करता हुँ की Hindi Hints की इस पोस्ट में आप को पता चल गया होगा कि  Ifsc code aur Cif Number kya hai? और इससे उन दोनों मे फर्क भी जान गये होंगे। ध्यान से पढने के लिए दिल से धन्यवाद! आप अपनी राय कमेंट बॉक्स मे लिखना ना भूलें। 

ये भी पढ़िए :

बेस्ट वास्तु टिप्स 

बेस्ट सौंदर्य टिप्स 

बेस्ट किचन टिप्स 

बेस्ट पढ़ाई टिप्स 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ