Header Ads Widget

Ticker

50/recent/ticker-posts

तम्बाकू की लत कैसे छोड़े? How to quit Tobacco Addiction? in Hindi

तम्बाकू की लत कैसे छोड़े? How to quit Tobacco Addiction? in Hindi

प्रणाम दोस्तों, भारत की युवा पिढी तम्बाकू गुटखा के व्यसन से घिरी हुई है।  भारत सरकार की निर्देश अनुसार तम्बाकू वाली हर कंपनियां अपनी सच्चाई ना छुपाते हुए अपने हर पैकेट पर चेतावनी लिखती है की तम्बाकू से कैंसर होता है। फिर भी करोड़ो लोग इसकी लत को नहीं छोड़ पाते इसलिए उन सभी के लिए यह तम्बाकू की लत कैसे छोड़े? How to quit Tobacco Addiction? in Hindi यह लेख   बहुत उपयोगी साबित होगा। 


How-to-quit-Tobacco-Addiction-Hindi


तम्बाकू की लत क्या है? - What is Tobacco Addiction? in Hindi

किसी अच्छे फल को कीड़े खाकर सड़ा, गला कर बर्बाद कर देते है वैसे भगवान के दिए मनुष्य के शरीर को भी Tobacco Addiction कैंसर के कीड़ों से नष्ट कर देती है।

पहली बार शौक से तम्बाकू खाने वाले हर व्यक्ति की तम्बाकू में मौजूद निकोटीन शरीर की जरूरत बन जाता है और फस जरूरत को पुरा करने के लिए व्यक्ति बार-बार तम्बाकू का सेवन करता है इसी को तम्बाकू की लत (Tobacco Addiction) कहते है। 

तम्बाकू की लत को पुरा करने के लिए मार्केट में अनेक तरह के तम्बाकू के उत्पादन है और एक से बढ़कर एक दर्जेदार तम्बाकू भी उपलब्ध है किंतु सभी के सेवन का परिणाम दर्दनाक मौत से होता है। क्योंकि यह एक-दो बार सेवन के बाद गंभीर लत का रूप ले लेते है। 

तम्बाकू की लत के दुष्परिणाम - Side effects of Tobacco Addiction in Hindi

हमने तम्बाकू के लत के बारे मे तो जान लिया है, अब तम्बाकू खाने से क्या होता है? इसके बारे मे जानेंगे। 

क्योंकि जबतक आपको किसी चीज के दुष्परिणाम पुरी तरह पता ना हो मन भी साथ नहीं देता उसे छोड़ने के लिए। 

 तम्बाकू में निकोटीन की मौजूदगी हमारे शरीर को ग़ुलाम बनती है। तम्बाकू भले ही खाने मे तीखा और गंदे स्वाद (Dirty taste) वाला हो लेकिन कमाल की मजबूरी बन जाता है। 

तम्बाकू से दाँतों पर गंदे धब्बे पड़ने से चेहरे की सुंदरता नष्ट हो जाती है। और मुँह, गले एवं फेफडों का कैंसर (lung cancer) होने के बाद 90% से ज्यादा लोगों की मौत हो जाती है। शरीर की धमनियों के सिकुड़ने कारण हार्ट अटैक का ख़तरा भी बढ़ जाता है। 

भारत में Tobacco Addiction से मरने वालों की संख्या हर साल बढती ही जा रही है। तम्बाकू वह अदृष्य अजगर है जो मनुष्य को धीरे-धीरे अपनी चपेट में लेकर अंत में निंगल जाता है अर्थात मौत हो जाती है। 

तम्बाकू गुटखे की लत कैसे छोडे? - How to quit Tobacco Gutkha Addiction?

तम्बाकू की लत को छोड़ने के लिए किसी के दबाव या डर की जरूरत नहीं और यह उससे छुटती भी नहीं। निकोटीन के असर को मन के पक्के निश्चय से भी नहीं छोड सकते अपवाद में कोई मिल जाए तो वह करोड़ों मे एक होगा जिसको मन के साथ उसका शरीर भी साथ देता है। Drug addiction की तरह यह आदत भी ख़तरनाक होती है। 

फिर भी तम्बाकू की लत छुड़ाने के लिए सबसे पहले मन का निश्चय तो चाहिए ही लेकिन साथ में सरकार द्वारा "तम्बाकू मुक्ति अभियान" में शरीर से निकोटीन का असर कम करने के लिए कुछ दवाईयाँ भी दियी जाती है। जो सरकारी अस्पतालों मे आसानी से मिल जाएगी। Tobacco Addiction से बचने के लिए उन दवाइयों का कोर्स करना बहुत जरूरी है। और Nasha mukti kendra द्वारा किए गये मार्गदर्शन का अनु पालन करना भी आवश्यक है।

तम्बाकू की लत छोड़ने के लिए उसे खाने की मात्रा और खाने का टाइम कम करना होगा। अगर आप एक बार में 10 ग्राम तम्बाकू या गुटखा खाते हो तो उसे 5-5 ग्राम दो बार खाना है। बाद में 4-3-2-1 ऐसे हर हफ्ते मात्रा कम करना है। अगर आप दिन में आधे घंटे मे एकबार खाते हो तो घड़ी लगाकर उसे 40 मिनट फिर अगले हफ्ते 50-60 मिनट तक किया गैप बढ़ाना है।

इस तरह से तम्बाकू की लत छूटने का कारण यह है की Nicotine जो आपके शरीर की जरूरत बन चुका है उस पर धीरे-धीरे शरीर और मन संयम से नियंत्रण पा लेता है। और कुछ दिन बाद जब भी निकोटीन की तलफ आजाये केवल सौंप चबाने से भी काम बन जाता है। इस तरह से आदत छुड़ाने में लम्बा समय लगता है किंतु रिजल्ट 100% मिलता है। इसके साथ निकोटीन मुक्ती के लिए दवाईयाँ लेंगे तो और भी बेहतर काम होगा। 

आशा करता हुँ की आप को इस पोस्ट से ज़रूर कुछ ना कुछ फायदा होगा। आप अपने अनुभव तथा राय कमेंट बॉक्स में ज़रूर लिखना। Hindi Hints की इस तम्बाकू की लत कैसे छोड़े? How to quit Tobacco Addiction? in Hindi पोस्ट को ध्यान से पढने के लिए दिल से धन्यवाद!

ये भी पढ़िए :


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ